Ticker

6/recent/ticker-posts

कंप्यूटर क्या हैं? | What Is Computer In Hindi

कंप्यूटर क्या हैं? | What Is Computer In Hindi
कंप्यूटर क्या हैं? | What Is Computer In Hindi
                                         


कम्प्यूटर क्या है? (What is Computer ?)

What Is Computer In Hindi:-'कम्प्यूटर' ज्ञान का असीम भंडार वाला एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है। 'कम्प्यूटर' शब्द की उत्पत्ति अंग्रेजी के शब्द 'कम्प्यूट' (Compute) से हुई जिसका अर्थ है-गणना करना। 

कम्प्यूटर को हिन्दी में 'अभिकलित्र' अथवा 'संगणक' भी कहते हैं। प्रारंभ में कम्प्यूटर का उपयोग मुख्य रूप से गणनात्मक कार्यों के लिए ही हुआ, लेकिन आज इसका कार्य-क्षेत्र काफी स्तित और व्यापक हो चुका है। 

इस आधार पर हम कम्प्यूटर को सिर्फ कहने के बदले इन्फॉर्मेशन या सूचना के आधार पर संगणना (Processing) करनेवाला उपकरण भी कह सकते हैं। 

अतः 'कम्प्यूटर' एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है, जिसमें प्रत्यक्षतः हाथों से काम किये बिना ही जटिल-से-जटिल सूचनाओं को संसाधित करके पलक झपकते ही हलसहित निकाल लेने की क्षमता मौजूद होती है। 

सामान्यतः घरों एवं दफ्तरों में प्रयोग किए जानेवाले कम्प्यूटर को PC (Personal Computer) कहा जाता है। कम्प्यूटर के विकास की दिशा में प्रथम प्रयास 19वीं शताब्दी में चार्ल्स बैवेज द्वारा किया गया था।

What Is Computer In Hindi:- कम्प्यूटर का शाब्दिक अर्थ कम्प्यूटर (Computer) शब्द वस्तुतः अंग्रेजी के आठ अक्षरों के संयोग से बना है, जो इसके अर्थ को अति व्यापक बना देते हैं। ये अक्षर निम्नलिखित हैं:

  1. C = Commonly (सामान्य रूप से) 
  2. 0 = Operator (चलानेवाला) 
  3. M = Machine (यंत्र)
  4. P = Particular (मुख्य रूप से) 
  5. U = User (प्रयोगक) 
  6. T = Trade (व्यापार) 
  7. E = Education (शिक्षा)
  8. R = Research (अनुसंधान)
 
अतः शाब्दिक अर्थ में कम्प्यूटर का आशय एक ऐसे व्यवहृत यंत्र से है, जिसका उपयोग व्यापार, शिक्षा एवं अनुसंधान आदि क्षेत्रों में किया जाता है।

सूचना का एकत्रीकरण (Collection), भंडारण (Storage), प्रसंस्करण (Processing) और उसके स्थानान्तरण (Transmission) का विज्ञान सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) कहलाता है। 

सूचना प्रौद्योगिकी का संबंध कृत्रिम उपग्रहों, प्रकाश-तंतु (Optical Fibres), लेजर (LASER), कम्प्यूटर (Computer) इत्यादि से है। इन सभी में संगणक या कम्प्यूटर का केन्द्रीय स्थान है। 

कम्प्यूटर की उत्पत्ति अंग्रेजी भाषा के 'कम्प्यूट' से हुई है, जिसका अर्थ'गणना करना होता है। चूँकि आज कम्प्यूटर के द्वारा 80% से अधिक कार्य गैर-गणनीय हैं, इसलिए इसे सिर्फ 'गणक यंत्र' कहना न्यायोचित नहीं होगा। 

कम्प्यूटर के विकास के चरण (Phases in Computer's Development ) 

1. अबेकस (Abacus) प्राचीन चीन का एक गणक यंत्र। 

2. नेपियर बोन्स जॉन नेपियर द्वारा बनाया गया गुणक यंत्र। 

3. पास्कल का अंकीय गणना यंत्र-17वीं सदी में ब्लेज पास्कल द्वारा विकसित ऐडिंग मशीन (Adding machine) पास्कल को पहले गणक (Calculator) का जनक कहते हैं। 

4. जेकार्ड्स लूम-जोसेफ जेकार्ड्स ने पंचकार्ड पर आधारित लूम का आविष्कार किया।

5. एनालिटिकल इंजिन (Analytical Engine)—चार्ल्स बैवेज ने 1822 में गणना कार्य और संग्रहण क्षमतावाले स्वचालित गणक यंत्र (Automatic Calculating Machine) का निर्माण किया, जिस एनालिटिकल इंजन कहा गया। चार्ल्स बैवेज को कम्प्यूटर का जनक भी कहा जाता है। 

6. होलेरिंथ टेबुलेटर विद्युत्चालित पंचकार्ड मशीन का 1890 में अमेरिकन जनगणना में प्रयुक्त किया गया। हर्मन होलेरिंथ द्वारा स्थापित टेबुलेटिंग मशीन कम्पनी बाद में चलकर IBM (International Business Machine) के नाम से प्रसिद्ध हुई। 

7. 1940 में आईबीएम के हॉवर्ड एकिन ने विश्व का पहला स्वचालित विद्युत्-यांत्रिक कम्प्यूटर (Electromechanical Computer) विकसित किया, जिसका मार्क-I नाम दिया।

8. ENIAC, जो Electronic Numerical Integrator and Calculator का संक्षिप्ताक्षर है, को प्रथम पूर्ण इलेक्ट्रॉनिक कम्प्यूटर माना जाता है। इसका निर्माण 1946 में अमेरिका के वैज्ञानिक एस्कर्ट और मौचली (Eskert and Mauchly) के द्वारा किया गया। 

द्वि-आधारी पद्धति (Binary Number):


  1.  0 से 1 पर आधारित गिनती की पद्धति को द्विआधारी पद्धति कहते हैं। 
  2.  द्वि-आधारी पद्धति की संख्याएँ 0 तथा 1 को बिट कहा जाता है, जो बाइनरी डिजिट (Binary Digit) का संक्षिप्ताक्षर है। 
  3. चार बिट का 1 निब्बल (Nibble) होता है। 
  4. 8 बिट का एक बाईट होता है, जो एक कैरेक्टर के बराबर है। 
  5. 210 बाईट (Byte) को 1 किलोबाइट कहते हैं, जो 1024 बाइट के बराबर होता है। 
  6. 220 बाइट या 210 किलोबाइट को 1 मेगाबाइट कहते हैं, जो 1024 x 1024 बाइट के बराबर होता है। 

दशमलव पद्धति की कुछ संख्याओं का द्वि-आधारी में मान : 


दशमलव      द्वि-आधारी

0                    0000
1                    0001
2                    0010 
3                    0011 
4                    0100 
5                    0101 
6                    0110
7                    0111 
8                    1000
9                    1001
10                   1010 

नोट : द्वि-आधारी में जब कोई अगला अंक लिखना होता है, तो उसके पिछले अंक में भी 1 जोड़ दिया जाता है। द्वि-आधारी में दो अंकों का योग निम्नांकित प्रकार होता है :

0+0=0 
0+1=1 
1+1=10

People also ask

कंप्यूटर क्या है और उसके प्रकार?
ANSWER:- कम्प्यूटर का आशय एक ऐसे व्यवहृत यंत्र से है, जिसका उपयोग व्यापार, शिक्षा एवं अनुसंधान आदि क्षेत्रों में किया जाता है।

कंप्यूटर के कितने भाग होते हैं?
ANSWER:- 5

कंप्यूटर का पूरा नाम क्या है?
ANSWER:-
C = Commonly (सामान्य रूप से) 
0 = Operator (चलानेवाला) 
M = Machine (यंत्र)
P = Particular (मुख्य रूप से) 
U = User (प्रयोगक) 
T = Trade (व्यापार) 
E = Education (शिक्षा)
R = Research (अनुसंधान)

कंप्यूटर का दूसरा नाम क्या है?
ANSWER:- गणक अथवा सगणक 

Post a Comment

0 Comments